छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़ को 14 सालों में पहली बार पद्म सम्मान नहीं, देश की 128 हस्तियां, पर एक भी छत्तीसगढ़िया नहीं

रायपुर। गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर पद्म पुरस्कारों का एलान किया गया। छत्तीसगढ़ के लोग इंतजार कर रहे थे कि इस बार कौन होगा जिसे पद्म सम्मान से नवाजा जाएगा। लिस्ट में देश की 128 हस्तियों के नाम थे मगर एक भी छत्तीसगढ़िया इसमें शामिल नहीं था। ये 14 सालों में पहली बार है जब पद्म सम्मान में छत्तीसगढ़ के किसी व्यक्ति का नाम नहीं है। छत्तीसगढ़ राज्य बनने के बाद पहले पद्म सम्मान वाले पद्मश्री डॉ एटी दाबके हैं।

साल 2008 से लगातार साल 2021 तक प्रदेश के किसी न किसी क्षेत्र से लोगों को पद्म सम्मान मिलता रहा है। इस साल अवॉर्ड न मिलने से कई तरह की चर्चाएं हैं। संस्कृति विभाग के उप संचालक (रिटा.) राहुल सिंह अवॉर्ड में नाम भेजने की प्रक्रिया के जानकार हैं, उन्होंने कहा कि- इस वर्ष पद्म पुरस्कारों की सूची में छत्तीसगढ़ से किसी नाम की जानकारी नहीं मिली है। मेरा अनुभव है कि आवेदन, जो अब ऑनलाइन किए जाते हैं, उनमें अपेक्षा अनुरूप जानकारी न दे पाने की वजह से कई योग्य पात्र इस सम्मान से वंचित रह जाते हैं। बहरहाल आने वाले समय के लिए पूरी तैयारी रखनी होगी।

देश की इन हस्तियों को मिला इस बार अवॉर्ड
इस साल पद्म विभूषण के लिए कुल चार नाम चुने गए हैं, जबकि 17 हस्तियों के नाम पद्म भूषण के लिए चुने गए हैं। इसके अलावा पद्मश्री सम्मान के लिए 107 नामों का चयन हुआ है। पद्म विभूषण में पूर्व सीडीएस जनरल बिपिन रावत (सिविल सेवा), भाजपा के पूर्व नेता कल्याण सिंह (सार्वजनिक मामले) और गीताप्रेस गोरखपुर के अध्यक्ष रहे राधेश्याम खेमका (साहित्य और शिक्षा) को यह सम्मान मरणोपरांत दिया गया। इसके अलावा भारतीय शास्त्रीय संगीतज्ञ डॉक्टर प्रभा अत्रे को पद्म विभूषण से सम्मानित किया गया है।

पद्म भूषण सम्मान – जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद, पश्चिम बंगाल के पूर्व सीएम बुद्धदेब भट्टाचार्य शामिल हैं। इसके अलावा दुनियाभर में भारत का नाम रोशन करने वाले माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ सत्या नडेला और गूगल के सीईओ सुंदर पिचई को भी पद्म भूषण सम्मान दिया जाएगा। देश की पहली स्वदेशी वैक्सीन कोवाक्सिन की निर्माता कंपनी भारत बायोटेक के संस्थापक कृष्णा एल्ला और उनकी पत्नी सुचित्रा एल्ला को इस पुरस्कार के लिए चुना गया।

पद्मश्री सम्मान– ओलंपिक गेम्स के गोल्ड मेडल विजेता नीरज चोपड़ा, ओलंपिक में मेडल जीतने वाले सुमित अंतिल, भारत की फील्ड हॉकी प्लेयर वंदना कटारिया, पैरालंपिक में गोल्ड मेडल जीतने वालीं अवनी लेखरा, लद्दाख के सांसद जामयांग शेरिंग नांग्याल, गायक सोनू निगम शामिल हैं।

छत्तीसगढ़ राज्य बनने से अब तक पद्म अवॉर्डी

  • डा. अरुण त्र्यंबक दाबके -2004
  • मेहरुन्निसा परवेज -2005 (मध्यप्रदेश)
  • पुनाराम निषाद -2005
  • डा. महादेव प्रसाद पाण्डेय -2007
  • जॉन मार्टिन नेल्सन -2008
  • गोविंदराम निर्मलकर -2009
  • डा. सुरेन्द्र दुबे -2010
  • सत्यदेव दुबे -2011–पद्मभूषण (महाराष्‍ट्र)
  • डा. पुखराज बाफना -2011
  • शमशाद बेगम- 2012
  • फुलबासन बाई यादव– 2012
  • स्वामी जी.सी.डी. भारती उर्फ भारती बंधु, कला – 2013
  • अनुज (रामानुज) शर्मा, कला-प्रदर्शनकारी कला – 2014
  • सबा अंजुम, खेल – 2015
  • शेखर सेन, कला – 2015 (महाराष्ट्र)
  • ममता चन्द्राकर, कला-लोक संगीत – 2016
  • अरुण कुमार शर्मा, अन्य (पुरातत्व‍) – 2017
  • दामोदर गणेश बापट, सामाजिक कार्य – 2018
  • पंडित श्यामलाल चतुर्वेदी, साहित्य एवं शिक्षा – 2018
  • अनूप रंजन पांडेय, कला – 2019
  • बुधादित्य मुखर्जी, कला – 2019 (पश्चिम बंगाल)
  • मदन सिंह चौहान, कला – 2020
  • राधे श्याम बारले, कला – 2021