छत्तीसगढ़

कोरबाः नाबालिग लड़की ने लगाई फांसी, घरवाले बाहर गए थे, वापस लौटे तो फांसी के फंदे पर लटका मिला शव; आत्महत्या का कारण स्पष्ट नहीं

लड़की ने 5वीं तक पढ़ाई करने के बाद पढ़ाई छोड़ दी थी। - Dainik Bhaskar

कोरबा। कोरबा में एक नाबालिग लड़की ने फांसी के फंदे पर लटककर आत्महत्या कर ली है। उसका शव घर के ही एक कमरे में मिला है। बताया गया कि घटना के वक्त उसके घरवाले कहीं बाहर गए हुए थे। फिर जब वापस लौटे तो उन्हें उसकी लाश मिली। फिलहाल लड़की ने किस कारण से ये कदम उठाया है। इस बात का पता नहीं चल सका है। मामला रामपुर चौकी क्षेत्र का है।

जानकारी के मुताबिक, रायपुर के सिलतरा इलाके की रहने वाली रंजीता पार्थी रामपुर के खपराभट्टा इलाके में अपने बुआ के यहां रहती थी। वो पिछले 3 सालों से यहीं रह रही थी। 5वीं तक पढ़ाई के बाद उसने पढ़ाई छोड़ दी थी। वो घर पर ही रहा करती थी।

मंगलवार सुबह भी लोग मौके पर गए थे।
मंगलवार सुबह भी लोग मौके पर गए थे

सोमवार को रंजीता की बुआ संगीता और घर के अन्य लोग बाहर गए हुए थे। रंजीता शाम को डॉक्टर के पास उपचार के लिए गई हुई थी। बताया गया कि जब वो रात को घर लौटी तो घर का दरवाजा अंदर से बंद था। काफी खटखटाने पर भी दरवाजा किसी ने नहीं खोला। इस पर उसने खिड़की से झांका तो रंजीता के शव लटकने की परछाई नजर आई। इसके बाद उसने आस-पास के लोगों को जानकारी दी। तब आस-पास के लोगों की मदद से दरवाजा तोड़ा गया।

लोगों ने अंदर जाकर देखा तो रंजीता का शव उसके कमरे में फांसी के फंदे पर लटका हुआ था। घटना के बाद पुलिस को भी इसकी जानकारी दी गई। अब मंगलवार को लड़की का पोस्टमॉर्टम कराया गया है और शव परिजनों को सौंपा गया है। पुलिस के मुताबिक फिलहाल ये पता नहीं चल सका है कि उसने आत्महत्या क्यों की है। मामले में जांच जारी है।