छत्तीसगढ़

KORBA BJP : नेताजी का हैप्पी बर्थडे… विधानसभा चुनाव और तिलिस्म…पढ़ें पूरी खबर


कोरबा। आजकल शहर में भाजपा नेताओं का जन्मदिन बड़े धूमधाम से मनाने का ट्रेंड चल पड़ा है. पिछले दिनों बड़े-बड़े पोस्टर लगाकर धूमधाम से युवा नेताओं ने अपना जन्मदिन मनाया. आयोजन- प्रयोजन के साथ कार्यकर्ताओं की मान मनव्वल भी की जा रही है. नेता जी भी शर्ट-पैंट त्याग कर कुर्ता- पजामा जैकेट पहने पूरे फॉर्म में नजर आ रहे हैं. लोगों में यह चर्चा आम हो चली है कि, लगता है चुनाव आ गया !

चुनाव आ गया… हैप्पी बर्थडे नेताजी…

पिछले विधानसभा और लोकसभा चुनाव में भाजपा को करारी शिकस्त और प्रदेश में सत्ता परिवर्तन के बाद भाजपाई कार्यकर्ताओं की पूछ- पुछारी लगभग बंद हो गई थी ! लेकिन इधर कांग्रेस ने छत्तीसगढ़ सरकार में अपने तीन वर्ष पूरे किए वहीं आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर उल्टी गिनती शुरू हो गई. विपक्ष के चतुर- सुजान नेताजी भी, जीवन के कई बसंत पूरे करने के बाद जन्मदिन का बहाना लेकर इसबार चुनावी दंगल में पहलवानी दिखाने का मन बना चुके हैं, इसलिए कार्यकर्ताओं की मान मनव्वल की जा रही है. बकायदा सूची बनाकर उन्हें जन्मदिन का न्योता भेजा जा रहा है. आयोजन प्रयोजन के साथ-साथ पार्टी में योगदान का स्मरण कराकर जीने मरने की कसमें भी खाई जा रही है. फिर बफे सिस्टम में कार्यकर्ताओं को खाना खिलाया जा रहा है. बड़े फोटो के साथ नेताजी का पोस्टर आकर्षण का केंद्र बना हुआ है और उसमें भी कोई कार्यकर्ता छूट ना जाए इसका विशेष ध्यान रखा जा रहा है.

सूट- बूट धारी नेता फॉम में… जमकर कट रही चांदी… गुटबाजी भी चरम पर

पिछले दिनों राजनीतिक रसूख रखने वाले युवा नेताओं ने एक के बाद एक अपना जन्मदिन मनाया. जन्मदिन ऐसा मानो बहार आ गयी. जगह- जगह केक काटे गए, बधाइयां दी गईं, लेकिन तमाम जतन के बाद भी शीर्षस्थ नेताओं की अनुपस्थिति ने गुटबाजी की कहानी बंया कर दी! कार्यकर्ताओं की उपस्थिति को लेकर भी त्योरिया चढ़ा ली गईं, किअपने गुट का कौन-कौन आदमी दूसरे गुट के आयोजन- प्रयोजन में नजर आया. कुछ चतुर सूट बूट धारी नेताओं ने इन आयोजन प्रयोजन में भी जमकर चांदी काटी ऐसा लगा मानो चुनाव आ गया !

अभी-अभी… पूर्व पूर्व और पूर्व ही नजर आए

अभी- अभी पूर्व सहज सरल नेता जी का जन्मदिन मनाया गया. ऐसा लगा मानो विधानसभा चुनाव का ट्रायल शुरू हो गया हो. नेता जी भी चंदन-टीका लगाए अलग अलग मंच पर भाषण देते नजर आए. कार्यकर्ताओं और नेताओं को यह संदेश देने का सफल प्रयास हुआ की हम भी हैं दौड़ में हैं ! लेकिन बड़े नेताओं ने कार्यक्रम से अपनी दूरी बनाए रखी ! पूर्व के जन्मदिन पर पूर्व- पूर्व और पूर्व ही अधिकतम नजर आए, जिसे लेकर भी चर्चाओं का बाजार गर्म रहा. एक कंपनी के डायरेक्टर को यह बात इतनी खली की उन्होंने शाम होते-होते अपने समर्थकों की क्लास ले डाली !

चुनाव का तिलिस्म

2023 में विधानसभा का चुनाव होना है. निश्चित ही भाजपा प्रदेश में बड़ा वजूद रखने वाली विपक्षी दल है .देश में सबसे बड़ा चेहरा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का है जिसके दम पर चुनौतियों पर विजय प्राप्त की जा सकती है. लेकिन 15 साल की सत्ता और धड़ों में बटी भाजपा इस तिलिस्म को कैसे तोड़ेगी ? दूर की कौड़ी बन चुका कोरबा विधानसभा क्षेत्र, हाथ से निकला कटघोरा क्षेत्र, चुनौती बन चुका पाली- तानाखार
क्या नेताजी का हैप्पी बर्थडे इस चुनावी खंदक को पाट पाएगा ? सबसे बड़ा यक्ष प्रश्न है !

फिलहाल शहर में भाजपा नेताओं के बर्थडे की चर्चा, परिचर्चा सरगर्म है, लोग 2 साल पहले शुरू हुए इस चुनावी दंगल आयोजन पर प्रयोजन और पार्टी का लुफ्त उठा रहे हैं !!