छत्तीसगढ़

बिलासपुर: पेट्रोल पंप से 4 लाख रुपये की चोरी, मैनेजर ने ही दो नाबालिग कर्मचारियों के साथ मिलकर दिया था वारदात को अंजाम, गिरफ़्तार

बिलासपुर। लीलागर पेट्रोल पंप में तीन दिन पहले हुई 4 लाख की चोरी के मामले को पुलिस ने सुलझा लिया है. मामले में आरोपी कोई और नहीं बल्कि पेट्रोल पंप का मैनेजर ही निकला, जिसने दो नाबालिग कर्मचारियों के साथ मिलकर वारदात को अंजाम दिया था. मामले में तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है.

खमतराई सरकंडा में रहने वाले अमित तिवारी ने लीलागर पेट्रोल पंप लोहर्सी के लॉकर को तोड़कर 4 लाख रुपये निकाल लेने की शिकायत पचपेड़ी थाने में दर्ज कराई थी. पुलिस ने मामले को गंभीरता से लिया और घटना के आरोपियों की तलाश के लिए मुखबिर को भी सक्रिय किया. पुलिस लीलागर पेट्रोल पंप तथा आसपास के गांव चिल्हाटी, चिस्दा, जोंधरा के संदेहियों की तलाश कर रही थी.

जांच के दौरान सीसीटीवी फुटेज और सीडीआर टावर डंप के आधार पर पुलिस को पेट्रोल पंप में काम करने वाले मैनेजर अभिषेक शर्मा पर शक हुआ. आरोपी को पकड़कर कड़ाई से पूछताछ की गई तो दो नाबालिग साथियों के साथ चोरी करना स्वीकार किया. आरोपियों के पास से चोरी की रकम में से 2,83,500 रुपए बरामद भी हुए. शेष राशि आरोपियों ने अय्याशी में खर्च कर डाले थे.