छत्तीसगढ़

कोरबा: तीन दिन से लापता बालक का शव खरसिया के पास मिला, घर पर नहर में नहाने जाने की बात कहकर सोमवार को निकला था घर से

कोरबा। तीन दिन पहले नहर में नहाने गए नाबालिग का शव खरसिया के बरगढ़ में मिला है। बच्चों के परिजन व नाराज लोगों ने पार्षद के साथ मिलकर कल चक्काजाम कर दिया था। पुलिस की समझाइश से चक्काजाम समाप्त हुआ था। बच्चे की पतासाजी पुलिस कर रही थी। जांजगीर- चांपा जिले के सक्ती के पास डंगनिया में एक शव दिखने की जानकारी मिली, इस पर सक्ती पुलिस को नजर रखने कहा गया था।इसी बीच आज सुबह खरसिया के बरगढ़ में बच्चे का शव देखा गया।शव को नहर से निकाल लिया गया है।पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौप दिया जाएगा।

ज्ञात हो कि सीतामणी क्षेत्र के वैष्णो देवी मंदिर के पास निवासरत 10 वर्षीय बालक युगल महंत घर पर नहर में नहाने जाने की बात कहकर सोमवार को घर से निकला था। इस बीच एक परिचित के मिल जाने पर उससे मोबाइल लेकर बात करते हुए नहर में पहुंच गया। नहर किनारे कपड़ा व मोबाइल रख कर वह नहाने गया या कहीं ओर चला गया? यह कोई नहीं देख सका था।जब काफी समय तक वह वापस नहीं लौटा, तब परिजनों को चिंता हुई और उन्होंने खोजबीन शुरू की। नहर किनारे कपड़ा व मोबाइल देखकर उन्हें संदेह हुआ। मामले की सूचना कोतवाली पुलिस को दी गई। नगर निरीक्षक विवेक शर्मा व अन्य स्टाफ स्थल पर पहुंचे और खोजबीन शुरू की,परंतु दो दिन बीत जाने के बाद भी उसका पता नहीं चल सका था। बच्चे के नहीं मिलने से परिजन काफी परेशान थे और किसी अनहोनी की आशंका को लेकर परिजनों ने वार्ड पार्षद के साथ मिलकर सीतामणी मुख्य मार्ग पर चक्काजाम भी कर दिया था। आंदोलन की वजह से मार्ग में जाम की स्थिति निर्मित हो गई थी। परिजनों का आरोप था कि सिंचाई विभाग नहर में पानी का स्तर कम नहीं कर रहा है, इससे बच्चे की जानकारी नहीं मिल पा रही है। चक्काजाम की सूचना पाकर कोतवाली थाना प्रभारी विवेक शर्मा मौके पर पहुंचे और लोगों को समझाइश देकर चक्काजाम समाप्त कराया। उन्होंने लोगों को आश्वस्त किया है,कि बालक को खोज जारी है।

टीआई विवेक शर्मा ने बताया कि जांजगीर- चांपा जिले के सक्ती के पास डंगनिया में एक शव दिखने की बात ग्रामीणों ने बताई थी, परंतु नहर में डायवर्सन होने की वजह से शव किधर गया, यह पता नहीं चल सका था। सक्ती पुलिस को नजर रखते हुए पतासाजी करने कहा गया था। आज शव को नहर से निकाल लिया गया है।पोस्टमार्टम में बाद शव परिजनों को सौप दिया जाएगा।