छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़: इस साल पहली से 10वीं तक के क़रीब 56 लाख विद्यार्थियों को बंटेगी मुफ्त किताबें

रायपुर, 10 जून। छत्तीसगढ़ पाठ्य पुस्तक निगम के माध्यम से शिक्षा सत्र 2021-22 में शासकीय, अनुदान प्राप्त शाला, मदरसों और गैर अनुदान प्राप्त शासकीय शालाओं के कक्षा पहली से 10वीं तक के लगभग 55 लाख 86 हजार 866 विद्यार्थियों को निःशुल्क पाठ्य पुस्तक वितरण करने का लक्ष्य है। पाठ्य पुस्तक निगम द्वारा मुद्रित पाठ्य पुस्तकें विगत वर्ष की भांति ही शिक्षा सत्र 2021-22 में शासकीय और अनुदान प्राप्त शालाओं के कक्षा पहली से 8वीं तक के विद्यार्थियों को संकुल स्तर तक पहुंचायी जाएंगी। यहां से संकुल प्रभारियों द्वारा संबंधित शालाओं के प्रधान पाठक, शिक्षकों के माध्यम से वितरित की जाएगी। 

शिक्षा सत्र 2021-22 में कक्षा पहली से 8वीं तक हिन्दी माध्यम की शासकीय शाला के 32 लाख 41 हजार 167 विद्यार्थियों, कक्षा 9वीं और 10वीं हिन्दी माध्यम शासकीय शाला के 8 लाख 53 हजार 975 विद्यार्थियों, कक्षा पहली से 10वीं तक हिन्दी माध्यम की अनुदान प्राप्त शाला के 78 हजार 827 विद्यार्थियों, कक्षा पहली से 8वीं तक हिन्दी माध्यम की अशासकीय शाला के 6 लाख 34 हजार 8 विद्यार्थियों, कक्षा पहली से 8वीं तक अंग्रेजी माध्यम के अशासकीय शाला के 3 लाख 42 हजार 329 विद्यार्थियों, कक्षा 9वीं और 10वीं हिन्दी माध्यम अशासकीय शाला के एक लाख 23 हजार 409 विद्यार्थियों, कक्षा 9वीं और 10वीं अंग्रेजी माध्यम अशासकीय शाला के 44 हजार 673 विद्यार्थियों और कक्षा पहली से 10वीं तक अंग्रेजी माध्यम के स्वामी आत्मानंद स्कूलों के 68 हजार 400 अनुमानित विद्यार्थियों को निःशुल्क पाठ्य पुस्तकों का सेट उपलब्ध कराने का लक्ष्य है। 

लोक शिक्षण संचालनालय द्वारा सभी पात्र विद्यार्थियों को पाठ्य पुस्तक उपलब्ध कराने के लिए सभी जिलों की विकासखण्ड, संकुल और शालावार वास्तविक मांग संख्या की जानकारी पाठ्य पुस्तक निगम को उपलब्ध करायी जा चुकी है।