छत्तीसगढ़

जांजगीर: पिता ने अपनी 13 साल की बेटी के प्रेमी को मार डाला गला घोंटकर,फिर शव को दफना दिया JCB से 15 फीट गहरा गड्‌ढा खोदकर, गिरफ़्तार

जांजगीर। जांजगीर जिले में एक पिता ने अपनी 13 साल की बेटी के प्रेमी को गला घोंटकर मार डाला। फिर उसका शव JCB से 15 फीट गहरा गड्‌ढा खोदकर दफना दिया। युवक के परिजन करीब एक माह से तलाश कर रहे थे। अब जाकर हत्या का मामला खुला। पुलिस ने सोमवार को आरोपी पिता को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी ने बेटी के मोबाइल से चैटिंग कर युवक को मिलने के लिए बुलाया था। मामला मालखरौदा थाना क्षेत्र का है।

दरअसल, देवांगन मोहल्ला निवासी ठाकेंद्र देवांगन (20) का 13 साल की लड़की से प्रेम प्रसंग चल रहा था। उसने बात करने के लिए किशोरी को मोबाइल भी दे रखा था। इसकी जानकारी किशोरी के पिता अजय देवांगन को लग गई। आरोप है कि उसने बेटी के सो जाने के बाद देर रात ठाकेंद्र से चैटिंग की और फिर उसे झांसा देकर मिलने के लिए बुलाया। जब ठाकेंद्र मिलने के लिए किशोरी के घर पहुंचा तो अजय और उसके बीच विवाद हुआ। इसके बाद उसने गमछे से ठाकेंद्र का गला दबा कर मार डाला।

दफनाने के लिए शव को कार में रखकर ले गया
पुलिस पूछताछ में अजय देवांगन (40) ने बताया कि उसके पास JCB भी है। ड्राइवर से कहकर उसने पावर प्लांट के पास 15 फीट गहरा गड्डा खुदवाया। इसके बाद अगले दिन चालक को छुट्‌टी दे दी। फिर कार की डिक्की में ठाकेंद्र का शव लेकर गया और वहां दफना दिया। ऊपर से JCB से राखड़ भी डाल दिया। पुलिस ने उसकी निशानदेही पर ठाकेंद्र का कंकाल बरामद कर लिया है। उसका पोस्टमार्टम कराने के बाद परिजनों को सौंप दिया गया है।

बेटी को परेशान करता था, इसलिए मार दिया
अजय देवांगन ने पुलिस को बताया कि ठाकेंद्र उसकी बेटी को परेशान करता था। उसने बेटी को मोबाइल भी लाकर दिया। कई बार समझाया, लेकिन वह नहीं माना। इसके चलते उसे बेटी के मोबाइल से मैसेज भेजकर मिलने के लिए बुलाया। घर आने पर भी समझाने का प्रयास किया, लेकिन नहीं माना और हाथापाई होने लगी। इसके चलते उसने ठाकेंद्र का गला घोंट दिया और फिर शव को ले जाकर दफना दिया।

ठाकेंद्र का पता बताने पर 5 हजार रुपए के इनाम की घोषणा थी

ठाकेंद्र देवांगन 29 अप्रैल से गायब था। उसकी 30 अप्रैल को परिजनों ने गुमशुदगी दर्ज करा दी। इसके बाद से उसका कुछ पता नहीं चल रहा था। काफी तलाश करने के बाद भी उसका कुछ पता नहीं चला तो पुलिस ने 5000 रुपए के इनाम की घोषणा भी कर दी। इस बीच एक स्पेशल पुलिस टीम बनाकर मामले की जांच की जाती रही। इस दौरान पुलिस ने ठाकेंद्र के मोबाइल पर आए मैसेज को ट्रेस किया तो आरोपी तक पहुंच गई।