छत्तीसगढ़

कोरबा: बेटे को थाना से छुड़ाने का झांसा देकर ग्रामीण महिला से ठगी, ग्रामीण की मोटर साइकिल भी लेकर हुआ रफू चक्कर

कोरबा। । एक ग्रामीण महिला को अज्ञात युवक ने उसके बेटे को थाना से छुड़ा देने का झांसा देकर न सिर्फ ठग लिया बल्कि मदद करने वाले ग्रामीण की मोटर साइकिल भी लेकर रफू चक्कर हो गया।

मामला करतला थाना क्षेत्र के ग्राम केराकछार का है। यहां की रहने वाली नर्बदा बाई के 2 पुत्रों सत्यनारायण व मनहरण निषाद में से बड़ा पुत्र सत्यनारायण कोरबा के जिला जेल में निरूद्ध है। 2 जून को सुबह करीब 10 बजे एक अज्ञात 22-23 वर्षीय युवक मोटर साइकिल क्रमांक सीजी-12एन-6315 पर सवार होकर नर्बदा बाई के घर पहुंचा। उसने बताया कि सत्यनारायण जेल से भाग गया है। उसे पंतोरा थाना में पुलिस ने पकड़कर रखा है और इस युवक ने अपने बड़े भाई को भी पंतोरा थाना में पकड़ा जाना बताया। 4 हजार रुपए लेकर थाना चलने व सत्यनारायण को छुड़ा लेने की बात नर्बदा बाई से अज्ञात युवक ने कही। नर्बदा बाई ने गांव के रवि यादव से राजकुमार देवांगन की मोटर साइकिल क्रमांक सीजी-12बीबी-3797 को मंगाया और रवि के साथ नर्बदा बाई अज्ञात युवक के पीछे-पीछे पंतोरा थाना के लिए रवाना हुई।

दोपहर करीब 12 बजे पंतोरा पेट्रोल पंप में अज्ञात युवक ने पेट्रोल भराया और 4 हजार रुपए नर्बदा बाई से लेकर उसकी मोटर साइकिल को भी ले लिया और सत्यनारायण को छुड़ाकर लाने की बात कहकर चला गया। उसने अपनी मोटर साइकिल क्रमांक सीजी-12एम-6315 को नर्बदा बाई के पास छोड़ दिया। लगभग 3 घंटा इंतजार करने के बाद भी अज्ञात युवक न तो सत्यनारायण को लेकर आया और न ही बाइक लेकर पहुंचा तो ठगे जाने का आभास हुआ। इसके बाद नर्बदा बाई ने करतला थाना में रिपोर्ट दर्ज कराते हुए छोड़ी गई मोटर साइकिल को जप्त कराया। अज्ञात आरोपी के विरूद्ध धारा 420 भादवि के तहत जुर्म दर्ज कर पतासाजी शुरू कर दी गई है