छत्तीसगढ़

रायपुर में 92 के पार पहुंचा पेट्रोल, मोदी का मुखौटा और पंप का मॉडल लेकर कांग्रेस नेता ने जताया विरोध

रायपुर। राजधानी रायपुर में फिर से पेट्रोल के दाम बढ़ गए हैं। इस वक्त शहर में पेट्रोल का दाम 92 रुपए प्रति लीटर है। 96 रुपए के दाम नर एक्सट्रा प्रीमियम फ्यूल मिल रहा है और डीजल 92 रुपए प्रति लीटर पर बेचा जा रहा है। हरचंद पेट्रोल पंप के संचालक ने बताया कि एक दिन की आड़ में लगभग 20 से 30 पैसे प्रति लीटर पेट्रोल की कीमत बढ़ रही है। पिछले एक महीने में पेट्रोल ने 89 रुपए से अब 92 रुपए तक का सफर पूरा कर लिया है। यह रफ्तार रही तो आने वाले कुछ महीनों में रायपुर में 100 रुपए प्रति लीटर पेट्रोल बिक सकता है।

रायपुर की सड़क पर पंप उठाकर चलते मोदी जी बने युवकों को लोग देखते रहे।

रायपुर की सड़क पर पंप उठाकर चलते मोदी जी बने युवकों को लोग देखते रहे।

पंप उठाकर चलने लगे मोदी जी
कांग्रेस नेता विनोद तिवारी ने पेट्रोल की बढ़ी कीमतों का विरोध अनोखे अंदाज में किया। पेट्रोल पंप के कट आउट डिजाइन बनाए और इसे लेकर चल रहे युवकों ने प्रधानमंत्री मोदी का मुखौटा लगा रखा था। मोदी बने युवक ये पंप उठाकर जय स्तंभ चौक से मालवीय रोड और कोतवाली तक यूं ही चलते रहे।

विनोद तिवारी ने कहा कि केंद्र की सरकार की वजह से रायपुर में 92 तो देश के कई शहरों में पेट्रोल 100 रुपए लीटर के दाम पर बिक रहा है। जब भाजपा विपक्ष में थी तब सड़कों पर उतर कर विराेध करती थी, मगर अब इस महंगाई पर कोई नेता कुछ नहीं कहता। मोदी भक्त इसे जायज ठहराते हैं। हम सड़क पर इस मांग के साथ उतरे हैं कि बढ़ी कीमतें वापस ली जाएं और सरकार को जरा शर्मा आए।

पिछले कुछ दिनों में रायपुर में पेट्रोल का दाम

तारीखपेट्रोल (सामान्य)एक्सट्रा प्रीमियम पेट्रोलडीजल
28 मई91.9895.3691.55
30 मई92.2395.6191.85
31 मई92.5195.8992.13
3 जून92.7696.1392.38

महंगाई पर असर- कम हो सकते हैं खाने के तेल के दाम
पेट्रोल डीजल की कीमतों की वजह से पूरे देश में होने वाले हर तरह की चीजों के ट्रांसपोर्टेशन पर असर पड़ता है। इसकी वजह से खाने-पीने की चीजों केदामों पर भी असर पड़ता है। पूरे देश में ब्रांडेड कंपनियों के पैकेज्ड आइटम भेजे जाते हैं। रायपुर के वरिष्ठ किराना व्यापारी जितेंद्र बरलोटा ने बताया कि चीजों के दाम आए दिन बढ़ रहे हैं। बड़ी कंपनियां चुपके से MRP में बदलाव कर रही हैं। कुछ ब्रांड के बाथ सोप में 5 रुपए तक दाम बढ़ गए हैं। बर्तन धोने के साबुन पर भी अब दो रुपए बढ़कर MRP प्रिंट आ रही है।

तेल के दाम जून के बाद कम हो सकते हैं।

तेल के दाम जून के बाद कम हो सकते हैं।

खाने के तेल की कीमतों पर भी लॉकडाउन और पेट्रोल-डीजल के दामों का असर पड़ा है। 1800 रुपए में बिकने वाला सन फ्लावर तेल का टीपा अब 2600 रुपए में बिक रहा है। गोलबाजार में पिछले 50 सालों से भी अधिक वक्त से खाने के तेल और किराना सामान का व्यापार मनीष राठौर का परिवार कर रहा है। उन्होंने बताया कि खाने के तेल की कीमतों की वजह से आम आदमी बेहद परेशान है। जून और जुलाई के पहले हफ्ते तक बारिश के आते-आते कीमतें कुछ कम होने की संभावना हमें नजर आ रही है।

एक साल में 21.58 रु/ली महंगा हुआ पेट्रोल
सरकारी तेल मार्केटिंग कंपनियों आंकड़ों के अनुसार, साल 2020 से 2021 के मार्च महीने तक की स्थिति में पेट्रोल की कीमत में रिकॉर्ड 21.58 रुपये प्रति लीटर और डीजल की कीमतों में 19.18 रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी हुई है। पिछले महीने राजस्थान, महाराष्ट्र और मध्य प्रदेश के शहरों में अब पेट्रोल की कीमत 100 रुपये प्रति लीटर के दाम पर है।

अब लोगों की आम जिंदगी में पेट्रोल वजह से बजट गड़बड़ा गया है।

अब लोगों की आम जिंदगी में पेट्रोल वजह से बजट गड़बड़ा गया है।

हर दिन सुबह छह बजे पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बदलाव होता है। हालांकि कई बार कोई बदलाव नहीं होता। मगर इंडियन ऑयल इसी वक्त नई कीमतों का अपडेट जारी करता है। पेट्रोल व डीजल के दाम में एक्साइज ड्यूटी, डीलर कमीशन और अन्य चीजें जोड़ने के बाद इसका दाम तय होता है। डीलर पेट्रोल पंप चलाने वाले लोग हैं। वे खुद को खुदरा कीमतों पर उपभोक्ताओं के अंत में करों और अपने स्वयं के मार्जिन जोड़ने के बाद पेट्रोल बेचते हैं। पेट्रोल रेट और डीजल रेट में यह कॉस्ट भी जुड़ती है।