छत्तीसगढ़

कोरोना वैक्सीन का कॉकटेल:दोनों डोज में अलग टीके का ट्रायल जल्द; टेस्टिंग में कोवीशील्ड, कोवैक्सिन और स्पूतनिक समेत 8 वैक्सीन होंगी शामिल

नई दिल्ली। कोरोना महामारी के बीच देश में लोगों को वैक्सीन लगाने का काम तेजी से चल रहा है। इस दौरान कई लोगों को दो अलग-अलग वैक्सीन के डोज लगाने की भी खबरें सामने आई हैं। इसका रिएक्शन तो सामने नहीं आया, लेकिन सरकार और प्रशासन अब इसको लेकर ट्रायल शुरू करने वाली है। अगले कुछ हफ्तों में दो अलग-अलग वैक्सीन लगाने को लेकर ट्रायल हो सकता है। इसमें कोवीशील्ड, कोवैक्सिन और स्पूतिनक समेत 8 वैक्सीन को शामिल किया जा सकता है।

इसकी पुष्टि नेशनल टेक्निकल एडवाइजरी ग्रुप ऑन इम्युनाइजेशन (NTAGI) के तहत काम कर रहे कोविड-19 वर्किंग ग्रुप के चेयरमैन डॉ. एन के अरोड़ा ने की है। उन्होंने कहा कि दो अलग-अलग वैक्सीन के ट्रायल से पता लगाया जाएगा कि क्या इससे इम्यून सिस्टम को और भी ज्यादा बूस्ट किया जा सकता है या नहीं।

दो वैक्सीन के बेहतर कॉम्बिनेशन को तलाश रहे हैं
डॉ. अरोड़ा ने कहा कि हम दो ऐसी वैक्सीन का कॉम्बिनेशन तलाश रहे हैं, जो बेहतर नतीजे दे सकें। फिलहाल जो वैक्सीन इस्तेमाल की जा रही हैं, वे गंभीर बीमारी से तो सुरक्षा प्रदान कर रही हैं, लेकिन संक्रमण और वायरस से हमारी उम्मीद के मुताबिक सुरक्षा प्रदान नहीं कर पा रही हैं। अभी काफी कुछ चीजों को लेकर टेस्टिंग की बेहद जरूरत है। दोनों वैक्सीन अपनी जगह पूरी तरह सुरक्षित हैं, लेकिन टेस्टिंग यह करना है कि क्या उन्हें मिक्स करके दे सकते हैं। यह दोनों ही वैक्सीन अलग-अलग कंपनियां बनाती हैं। ऐसे में हम नहीं चाहते कि किसी को कोई नुकसान हो।

भारत में अभी 2 ही वैक्सीन लगाई जा रहीं
फिलहाल, देश में सीरम इंस्टीट्यूट की कोवीशील्ड और भारत बायोटेक की कोवैक्सिन ही उपलब्ध हैं। रूस की स्पूतनिक वैक्सीन भारत को जून के दूसरे हफ्ते में मिल सकती है। पहले स्टेज में कोवीशील्ड और कोवैक्सिन को ट्रायल में शामिल कर सकते हैं। इसके बाद स्पूतनिक समेत 8 वैक्सीन को भी टेस्टिंग में शामिल किया जाएगा।

क्या टेस्टिंग हो सकती है ट्रायल में
ट्रायल से पता लगाया जाएगा कि दो अलग-अलग वैक्सीन लगाई जा सकती हैं। कौन सी अलग-अलग कंपनियों की वैक्सीन ज्यादा फायदेमंद रहेंगी। साथ ही कौन सी वैक्सीन पहले डोज के तौर पर देनी चाहिए और कौन सी दूसरी डोज में। यह सब ट्रायल में टेस्ट किया जाएगा।

जुलाई में केंद्र सरकार वैक्सीन के 20 से 25 करोड़ डोज खरीदेगी
हाल ही में देश भर में कोरोना वैक्सीन की किल्लत की खबरों के बीच केंद्र सरकार ने इसकी खरीद बढ़ाने का फैसला लिया है। सूत्रों ने रविवार को बताया कि केंद्र सरकार जुलाई के आखिर तक वैक्सीन के 20 से 25 करोड़ डोज खरीदेगी। इसके बाद अगस्त-सितंबर में 30 करोड़ डोज खरीदे जाएंगे। कोवीशील्ड वैक्सीन बना रही कंपनी सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) जून में सरकार को इसके 10 करोड़ डोज दे देगी।