छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़: 10वीं की परीक्षा अब नहीं होगी, सभी विद्यार्थी होंगे पास, 12वीं बोर्ड की परीक्षा टली, बाद में ऑनलाइन भी हो सकती हैं 12वीं बोर्ड की परीक्षाएं

रायपुर: छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल की 12वीं बोर्ड परीक्षा को स्थगित कर दिया गया है। वहीं 10वीं बोर्ड की परीक्षा निरस्त कर दी गई है। अब यह परीक्षा नहीं होगी। 10वीं के सभी विद्यार्थियों को उत्तीर्ण कर दिया जाएगा। 10वीं बोर्ड की परीक्षा 9 अप्रैल के आदेश से ही टाल दी गई थी।

छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल के सचिव प्रोफेसर वीके गोयल ने बताया कि 10वीं की परीक्षाएं नहीं होंगी। मंडल की ओर से जारी असाइनमेंट के आधार पर विद्यार्थियों को अंक दिए जाएंगे। यदि किसी छात्र ने असाइनमेंट नहीं किया है या असाइनमेंट में न्यूनतम उत्तीर्ण अंक प्राप्त नहीं किया है, तो उसे न्यूनतम उत्तीर्ण अंक देकर पास कर दिया जाएगा। अगर कोई विद्यार्थी अपने अंकों से असंतुष्ट है तो उसे परीक्षा का एक मौका दिया जाएगा। श्रेणी सुधार के लिये यह परीक्षा कोरोना महामारी के नियंत्रित होने के बाद आयोजित होगी।

स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम ने कहा कि कोरोना की स्थिति सुधरने के बाद 12वीं की परीक्षा पर फैसला होगा।
स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम ने कहा कि कोरोना की स्थिति सुधरने के बाद 12वीं की परीक्षा पर फैसला होगा

गुरुवार को 12वीं बोर्ड की परीक्षा को टालने का फैसला हुआ। स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम ने इसकी घोषणा की। इस परीक्षा में 287000 परीक्षािर्थयों को शामिल होना था। 12वीं बोर्ड की परीक्षा को टालने की बात काफी पहले से की जा रही थी, लेकिन माध्यमिक शिक्षा मंडल इसके लिये तैयार नहीं था। मंडल काे उम्मीद थी कि मई तक कोरोना संक्रमण के हालात में सुधार आ जाएगा और फिर केंद्रों में परीक्षा कराने में दिक्कत नहीं आएगी। हालात की समीक्षा के बाद सरकार ने इस परीक्षा को टालना ही बेहतर समझा। 12वीं बोर्ड की यह परीक्षा 3 मई से 24 मई तक होनी थी।

12वीं बोर्ड के लिये विकल्पों पर विचार
शिक्षा मंत्री डॉक्टर टेकाम ने कहा, जब तक कोरोना से स्थिति सामान्य नहीं हो जाती परीक्षाएं नहीं होंगी। हालांकि टेकाम ने यह भी कहा कि हम परीक्षा लेने का दूसरा विकल्प भी तलाशेंगे। माना जा रहा है कि अगर जल्दी ही हालात काबू में नहीं आये तो ऑनलाइन परीक्षा करानी पड़ेगी।

दूसरी परीक्षाएं रद्द कर दी गई हैं
स्कूल शिक्षा विभाग ने 10वीं और 12वीं बोर्ड को छोड़कर शेष कक्षाओं की सभी परीक्षाएं पूरी तरह रद्द कर दी हैं। इनकी कोई परीक्षा नहीं होगी। सभी विद्यार्थियों को सामान्य रूप से अगली कक्षाओं में प्रोन्नत कर दिया जाएगा। सरकार बोर्ड परीक्षाओं के लिए विकल्प की तलाश कर रहा है।