छत्तीसगढ़

कोरोना वैक्‍सीन लगवाने से पहले और बाद में शराब पीना हो सकता है खतरनाक, जानें साइड इफेक्‍ट

नई दिल्‍ली. भारत में कोरोना वायरस के वैक्‍सीनेशन की शुरुआत हो गई है. इस अभियान के साथ ही भारत, अमेरिका और ब्रिटेन समेत उन देशों की श्रेणी में आ जाएगा, जहां पर कोरोना (Corona) के खिलाफ टीकाकरण की शुरुआत हो गई है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए आज देश में पहले चरण के कोविड-19 टीकाकरण अभियान की शुरुआत की. भारत में भले ही आधिकारिक रूप से वैक्सीन लगवाने के बाद शराब पीने से संबंधित कोई चेतावनी जारी नहीं की गई है लेकिन दुनिया भर के एक्सपर्ट्स मानते हैं कि वैक्‍सीनेशन से पहले और बाद में शराब पीने से कई तरह की दिक्‍कत आ सकती है.

दुनिया भर के एक्सपर्ट्स का मानना है कि वैक्‍सीन लगवाने से पहले और बाद में कई तरह की सावधानी बरतने की जरूरत है. इन्‍हीं सावधानियों में से एक शराब से दूरी है. दरअसल शराब का इम्यूनिटी पर बुरा असर पड़ता है. इससे रोगों से लड़ने की क्षमता कमजोर हो जाती है. कोरोना वैक्सीन इम्यूनिटी पर ही काम करती है, इसलिए एक्सपर्ट्स का कहना है कि वैक्सीन लगवाने से पहले और कुछ दिनों बाद तक शराब नहीं पीनी चाहिए.

अब सवाल आता है कि वैक्‍सीनेशन से कितने समय पहले और कितने समय बाद तक शराब का सेवन नहीं करना चाहिए. इस मामले में एक्सपर्ट्स की अलग-अलग राय है. रूस के हेल्थ एक्सपर्ट्स का मानना है कि स्पुतनिक वी वैक्सीन लगवाने के 2 हफ्ते पहले और 6 हफ्ते बाद तक शराब का सेवन नहीं करना चाहिए.
हालांकि वैक्सीन बनाने वाले डॉक्टर अलेक्जेंडर गिन्टबर्ग ने वैक्‍सीन लगवाने से पहले और बाद में तीन दिनों तक एहतियात बरतने को कहा है.

उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा था कि, एक ग्‍लास शैंपेन से किसी की सेहत पर कोई नुकसान नहीं होता है. उन्‍होंने कहा कि इतनी कम मात्रा में शैंपेन लेने से इम्यून सिस्टम पर भी इसका कोई असर नहीं होता है.’ इसी तरह ब्रिटेन के हेल्थ एक्सपर्ट्स कहते हैं कि वैक्सीन लगवाने के एक दिन पहले और एक दिन बाद तक शराब नहीं पीनी चाहिए.