छत्तीसगढ़

कोरबा: एसपी का परिचय देकर सतरेंगा रिसोर्ट में रसूखदारों की दबंगई, बिना टिकट बोट भी चलाया, कर्मचारियों को धमकाया… 3 आरोपी गिरफ्तार

कोरबा-लेमरू। सतरेंगा पर्यटन केन्द्रों में खुद को पुलिस अधीक्षक का परिचित बताकर पर्यटन विभाग के कर्मचारियों को धमकाते हुए सरकारी बोट पर कब्जा कर लिया गया। उसे जबरन बिना टिकट लिए चलाने के साथ गाली-गलौच भी की गई। आतंकपूर्ण माहौल की सूचना पुलिस अधीक्षक को मिली तो उन्होंने तत्काल कार्यवाही के निर्देश दिए। इन लोगों पर जुर्म दर्ज किया गया है।

जानकारी के अनुसार लेमरू थाना क्षेत्रांतर्गत स्थित सतरेंगा पर्यटन केन्द्र में संचालित बोट क्लब एंड रिसोर्ट के प्रबंधक अंबिकापुर निवासी शाह नवाजिम खान पिता आजाद ने इस घटना की रिपोर्ट दर्ज कराते हुए बताया कि 2 दिसम्बर को शाम करीब 5.30 बजे सतरेंगा में ही शराब पीकर रिसार्ट खोलने के लिए गाली-गलौच की गई। बिना टिकट के जबरदस्ती बोटिंग की और बोटिंग के दौरान बोट चालक कुशल सिंह, नंदलाल सिंह से सुरेन्द्र बहादुर ने जबरदस्ती बोट छीनकर चलाया और फ्लोटिंग रेस्टोरेंट में जाने के बाद शराब पिया और फिर वापस आकर गाली-गलौच कर रूम नहीं खोलने पर जान से मारने की धमकी दी। इस घटना से कामगारों में भय का माहौल भी उत्पन्न हुआ। इन लोगों ने शराब के नशे में स्वयं को कोरबा पुलिस अधीक्षक का परिचित का होना बताते हुए पर्यटन स्थल में कार्यरत विभाग के कर्मचारी एवं अन्य लोगों को धमकाया। पुलिस अधीक्षक अभिषेक मीणा के द्वारा प्रकरण संज्ञान में आने पर थाना बालको के प्रभारी राकेश मिश्रा को कड़ी कार्यवाही करने हेतु निर्देशित किया गया।

बालको थाना प्रभारी एवं टीम द्वारा तत्काल सतरेंगा घटना स्थल जाकर उपरोक्त प्रकरण के आरोपी छन्नू सिंह पिता स्व. जेएस ठाकुर 60 वर्ष निवासी आरपी नगर, सुरेन्द्र बहादुर सिंह पिता भूपनारायण सिंह 42 वर्ष निवासी रविशंकर नगर, सुनील सिंह पिता आरपी सिंह 45 वर्ष निवासी शांतिनगर बांकीमोंगरा को हिरासत में लिया गया। प्रबंधक शाह नवाजिम की रिपोर्ट पर थाना लेमरू में धारा 186, 294, 506, 34 भादवि एवं 36 च आबकारी अधिनियम के तहत अपराध पंजीबद्ध कर सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर प्रकरण को विवेचना में लिया गया है। पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर उक्त आरोपियों के विरूद्ध पृथक से प्रतिबंधात्मक कार्यवाही भी की जा रही है। आरोपी सामाजिक व हिन्दू संगठन के पदाधिकारी हैं और ठेकेदारी के पेशे से जुड़े रसूखदार हैं। इस कार्यवाही की चर्चा नगर में भी गर्म है। दूसरी तरफ पुलिस अधीक्षक ने कहा है कि भविष्य में किसी भी प्रकार की गतिविधियों में संलिप्त अपराधिक एवं असामाजिक तत्वों के लोगों को बख्शा नहीं जाएगा एवं उनके विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की जाएगी।