छत्तीसगढ़

कृषि मंत्री चौबे ने कहा- PM मोदी को भेजेंगे BJP का बारदाना, जोगी बंगला तोड़े जाने पर कही यह बात

रायपुर ।छत्तीसगढ़ में धान खरीदी में हो रही देरी की वजह बनी बारदाने की कमी का मुद्दा अब सियासत की रंग में रंगने लगा है. छत्तीसगढ़ सरकार का कहना है कि प्रदेश में बारदाने की कमी है जिसकी वजह से धान खरीदी में विलंब हो रहा है. इसके बाद भाजपा ने प्रदेश सरकार को बारदाना तोहफे में देने की बातें कही. भाजपा के इन्हीं बयानों पर पलटवार करते हुए कृषि मंत्री रवींद्र चौबे ने उन्हें आड़े हाथों लिया है.

कृषि मंत्री रवींद्र चौबे ने कहा कि भाजपा का बारदाना हम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को गिफ्ट करेंगे और लिखेंगे कि बीजेपी चाहती है, धान खरीदी 2500 रूपए में हो. इसके साथ ही केंद्र सरकार ने समर्थन मूल्य से अधिक दर पर किसानों से धान खरीदी पर जो रोक लगाई हुई है, उस आदेश को वापिस ले.

जोगी बंगला तोड़े जाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि नए वित्तीय वर्ष से सभी मंत्री विधायक नया रायपुर में शिफ्ट होंगे. वर्तमान बंगलों को तोड़कर उसके व्यवसायिक उपयोग की तैयारी है, जिसमें जोगी बंगला भी शामिल है. उन्होंने कहा कि इसमें किसी भी तरह की राजनीति जैसी कोई बात नहीं है. मरवाही का चुनाव परिणाम जिस तरह आया है उसे लेकर अमित जोगी में खीझ बनी हुई है.

गौरतलब है कि सरकार कह रही है कि प्रदेश में बारदाने की कमी है. जिसके चलते धान खऱीदी में बिलंब हो रहा है. सरकार का ये भी आरोप है कि केंद्र सरकार जितने बारदाने मांगे गए हैं, उतनी संख्या में मुहैया नहीं करा रही है. चौबे ने कहा कि राज्य सराकर ने तीन लाख बारदाने मांगे थे जिसमें से केवल 1.43 लाख बारदाने ही राज्य सरकार को मुहैया कराया जा रहा है.

उन्होंने कहा कि नेता प्रतिपक्ष को थोड़ा अध्ययन करना चाहिए. उन्हें भाजपा ने बड़ी जिम्मेदारी दी है. उन्होंने बताया कि बारदाने का वितरण केंद्र के अधीन जूट कमिश्नर के जरिए होता है. कोरोना के चलते जूट कारखाने बंद थे जिसका हवाला देकर केंद्र सरकार 3.50 लाख की जगह 1.46 हज़ार बारदाने ही दे रही है. उन्होंने कहा कि भाजपा नेता कहकर और बारदाने दिलवा दें.