छत्तीसगढ़

मंदिर में नमाज तो मस्जिद में पढ़ी हनुमान चालीसा पर मौलाना अली हसन का खूबसूरत जवाब, कायल हुए सभी

नई दिल्ली।

देश में हमेशा से ही हिन्दू मुस्लिमों के बीच धर्म की जंग चली आ रही है। धीरे धीरे यह जंग बढ़ती ही जा रही है। देश में हाल ही मथुरा के नंदगांव स्थित नंदबाबा मंदिर में दो मुस्लिमों के नमाज अदा करने पर हंगामा खड़ा हो गया है। हिंदुओं ने नमाज अदा करने वाले दो लोगों पर एफआईआर दर्ज कराई है। मंदिर में नमाज पढ़ने के बाद मुस्लिम कोम को दिखाने के लिए बीजेपी के एक नेता ने मस्जिद (इबादतगाह) में हनुमान चालीसा पढ़ी।


मस्जिद में भाजपा की जिला कार्यकारिणी सदस्य एवं जनसंख्या फाउंडेशन के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मनुपाल बंसल ने बागपत में विनयपुर गांव की मस्जिद में हनुमान चालीसा और गायत्री मंत्र पढ़ा।

इस मामले में एसपी अभिषेक सिंह ने कहा कि जांच से ज्ञात हुआ है कि मौलाना से अनुमति लेने के बाद ही हनुमान चालीसा और गायत्री मंत्र का पाठ किया गया था। भाजपा नेता मनुपाल बंसल पहले मस्जिद पहुंचे और मौलाना अली हसन से इजाजत लेने के बाद उन्होंने भाईचारे के लिए पवित्र स्थान मस्जिद में हनुमान चालीसा का पाठ किया।

इन सारी घटनाओं को फेसबुक पर लाइव किया गया, जिससे सोशल मीडिया पर कई तरह-तरह की प्रतिक्रियाएं मिल रही हैं। बीजेपी सूत्रों ने बताया की मनुपाल बंसल मस्जिद में जाते रहते हैं। इसी मामले में मस्जिद के मौलाना अली हसन ने कहा कि ‘ऊपर वाले का नाम कहीं भी बैठकर लिया जा सकता है। सब जगह उसकी बनाई हुई है, उसका नाम भले मंदिर में लो या मस्जिद में, इसमें कुछ भी गलत नहीं है।